बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने तापसी पन्नू, अनुराग कश्यप पर टैक्स चोरी के आरोप पर बोलीं-मैं तो तभी समझ गई

    0
    238

     

    आयकर विभाग की छापेमारी के दौरान अनुराग कश्यप और तापसी पन्नू फंसते हुए दिखाई दे रहे हैं। दोनों पर कर चोरी का आरोप लगाया गया है। आयकर अधिकारियों ने हाल ही में अनुराग कश्यप और तापसी पन्नू के बयान दर्ज किए। इसके अलावा दोनों के कुछ लॉकर पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसी समय, केआरआई के कार्यालय, जो मधु मंटेना की कंपनी क्वान मैनेजमेंट और तापसी का प्रबंधन करते हैं, भी आयकर रडार पर हैं। इस बीच कंगना रनौत ने इस मामले में अपनी प्रतिक्रिया दी है।

    कंगना ने ट्वीट कर दोनों पर निशाना साधा है। एक ट्वीट में कंगना ने लिखा- आईटी डिपार्टमेंट ने दावा किया है कि उसके फोन से डेटा डिलीट कर दिया गया है। मनी लॉन्ड्रिंग के मामले और स्टेकहोल्डर की भागीदारी भी चौंकाने वाली हो सकती है। मैंने उन पर तभी संदेह किया जब इन लोगों ने प्रवासी मजदूरों को भारत विरोधी विज्ञापनों के जरिए उकसाने की कोशिश की।

    आयकर विभाग की छापेमारी के दौरान अनुराग कश्यप और तापसी पन्नू फंसते हुए दिखाई दे रहे हैं।

    अपने अगले ट्वीट में कंगना ने लिखा- डिलीट किए गए डेटा को रिकवर किया जा सकता है लेकिन ये छोटे खिलाड़ी हैं। आप कल्पना कर सकते हैं कि फिल्म उद्योग में इस आतंकवाद की जड़ें कितनी गहरी होंगी। जैसे ये लोग भारत का पैसा खो रहे हैं। सरकार को सभी के लिए एक अच्छा उदाहरण स्थापित करना चाहिए। ये लोग इस देश के टुकड़े आतंकवाद को नहीं बेच सकते। जय हिन्द।

    एक अन्य ट्वीट में कंगना लिखती हैं कि ‘कोवन एजेंसी और फैंटम प्रोडक्शन हाउस में मीटू और बलात्कार के कई आरोपी थे, लेकिन बुलडवुड ने हमेशा उन्हें बचाया। अनुराग कश्यप जैसे लोग न केवल बलात्कार के आरोपी हैं बल्कि उन्होंने सुशांत की मौत को सही ठहराने की भी कोशिश की। उन्हें लगा कि यह सच्चा न्याय है।

    आपको बता दें, आयकर विभाग के अधिकारियों ने कहा कि 3 मार्च को, विभाग ने मुंबई में दो उत्पादन कंपनियों, एक अभिनेत्री और दो प्रतिभा प्रबंधन कंपनियों के परिसरों पर छापा मारा। विभाग को प्रोडक्शन हाउस के स्टॉक लेनदेन में हेरफेर से जुड़े सबूत मिले हैं। 350 करोड़ रुपये का पता चला है। साथ ही, तस्सेन पन्नू के नाम पर 5 करोड़ की नकद प्रतिक्रिया बरामद की गई है।